Daily Current Affairs

Appointment


VISHWAS PATEL

Payments Council of India (PCI), an apex body representing companies in payments and settlement system, has a new Chairman in Vishwas Patel. Patel, who is Director at Infibeam Avenues, has been associated with PCI since its inception in 2013 and was serving as the co-Chairman of PCI. He takes over from Naveen Surya, who has been elevated to the post of Chairman Emeritus.

Do You Know?

  • The Payments Council of India (PCI) was formed under the aegis of IAMAI in the year 2013 catering to the needs of the digital payment industry.
  • PCI works closely with Reserve Bank of India (RBI), Finance Ministry and any similar government, departments, bodies or Institution to make ‘India a less cash society’.

नियुक्ति


विश्वास पटेल

विश्वास पटेल को पेमेंट्स काउंसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई), जो भुगतान और निपटान प्रणाली में कंपनियों का प्रतिनिधित्व करने वाला एक शीर्ष निकाय है का  नया अध्यक्ष बनाया गया है। इंफिबैम एवेन्यूज के निदेशक पटेल 2013 में स्थापना के बाद पीसीआई से जुड़े रहे हैं और पीसीआई के सह-अध्यक्ष के रूप में कार्यरत थे। वह नवीन सूर्या की जगह लेंगे, जिन्हें एमेरिटस के अध्यक्ष के पद पर नियुक्त किया गया है।

क्या आप जानते हैं?

  • भारतीय भुगतान परिषद (पी.सी.आई) की स्‍थापना वर्ष 2013 में डिजिटल भुगतान उद्योग की आवश्‍यकताओं को पूरा करने के लिए IAMAI के तत्‍वावधान में की गई थी।
  • पी.सी.आई भारतीय रिज़र्व बैंक (आर.बी.आई), वित्‍त मंत्रालय और भारत सरकार को कम नकदी वाला समाज बनाने के लिए किसी भी तरह के सरकारी, विभागों, निकायों या संस्थान के साथ मिलकर कार्य करता है।

    National


    MP GOVT LAUNCHES OUTSTANDING POWER BILL WAIVER SCHEME ‘SAMBAL’

    In Madhya Pradesh, the government has launched an outstanding power bill waiver scheme and subsidised power scheme ‘Sambal’ for labourers and poor families. Under the scheme, the Below Poverty Line (BPL) families would be provided electricity at a cost of 200 rupees per month. AIR correspondent reports that the objective of this scheme to make sure that all the households have power facility in the state. One crore 83 lakh workers registered under Sambal Yojana in the state till now. Under this scheme, outstanding electricity bill worth  five thousand 179 crores  rupees is to be waived off. Under the subsidised power  segment of this scheme, registered labourers of the unorganised sector and Below Poverty Line (BPL) families would be provided electricity at a cost of 200  rupees per month while Power connection would be provided free of cost to the beneficiaries.


    राष्ट्रिय


    मध्यप्रदेश सरकार ने उत्कृष्ट बिजली बिल छूट योजना संबललॉन्च की

    मध्य प्रदेश सरकार ने मजदूरों और गरीब परिवारों के लिए एक उत्कृष्ट बिजली बिल छूट योजना और सब्सिडी वाली बिजली योजना ‘संबल’ लॉन्च की है। इस योजना का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि सभी घरों में राज्य में बिजली की सुविधा हो। राज्य में संबल योजना के तहत अब तक एक करोड़ 83 लाख कर्मचारी पंजीकृत हैं। इस योजना के तहत, पांच हजार 17 9 करोड़ रुपए के लायक बिजली बिल को छूट दी जानी चाहिए। इस योजना के सब्सिडी वाले बिजली खंड के तहत, असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत मजदूरों और गरीबी रेखा (BPL) परिवारों के नीचे 200 रुपये प्रति माह की लागत से बिजली प्रदान की जाएगी जबकि लाभार्थियों को बिजली कनेक्शन मुहैया कराया जाएगा।


    Science & Tech.


    SUCCESSFUL FLIGHT TESTING OF CREW ESCAPE SYSTEM – TECHNOLOGY DEMONSTRATOR

    The Indian Space Research Organisation on Thursday successfully carried out a flight test for a newly-designed Crew Escape System, meant for saving lives of astronauts in an exigency. The space agency said it was the first in a series of tests to ascertain the trustworthiness and efficiency of the Crew Escape System. The system is an emergency measure designed to quickly pull away the crew module along with the astronauts to a safe distance from the launch vehicle if the mission gets aborted. The first ‘Pad Abort Test’ demonstrated the safe recovery of the crew module in case of any exigency at the launch pad, the Indian Space Research Organisation said in a release.

    After a smooth five-hour countdown, the Crew Escape System along with the simulated crew module lifted off at 7.00am from its pad at the Satish Dhawan Space Centre at Sriharikota. Nearly 300 sensors recorded various mission performance parameters during the test flight, it said, adding that three boats are being readied to retrieve the module as part of the recovery protocol.


    विज्ञानं एवं प्रद्योगिकी


    इसरो ने अंतरिक्ष यात्री बचाव प्रणाली का सफलतापूर्वक परीक्षण किया

    अंतरिक्ष के लिए अपने मानव मिशन लक्ष्य की दिशा में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को अंतरिक्ष यात्री बचाव प्रणाली (क्रू इस्केप सिस्टम) की श्रृंखला का पहला परीक्षण किया। इसरो ने एक बयान में कहा कि मानव अंतरिक्ष उड़ान के लिए यात्री बचाव प्रणाली बेहद महत्वपूर्ण है। इसरो ने कहा, यह लॉन्च के असफल होने की स्थिति में अंतरिक्ष यात्रियों के साथ क्रू मॉड्यूल को जल्दी से परीक्षण यान से निकालकर सुरक्षित दूरी पर ले जाने की एक प्रणाली है। इसरो के अनुसार, प्रथम परीक्षण (पैड निष्फल परीक्षण/पैड अबॉर्ट टेस्ट) में लॉन्च पैड पर किसी भी जरूरत पर क्रू सदस्यों को सुरक्षित बचाने की क्रियान्वयन को दिखाया गया। यात्री बचाव प्रणाली ने श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सुबह सात बजे 12.6 टन की क्षमता वाले कृत्रिम क्रू मॉड्यूल के साथ उड़ान भरी। परीक्षण का समय 259 सेकंड रहा, जिस दौरान यात्री बचाव प्रणाली ने अंतरिक्ष में ऊंची उड़ान भरी और बंगाल की खाड़ी में वृत्ताकार घूमते हुए अपने पैराशूट्स से पृथ्वी पर वापस लौट आई। परीक्षण उड़ान के दौरान लगभग 300 सेंसर ने विभिन्न मिशन प्रदर्शन मानकों को रिकॉर्ड किया।


    Sports


    SPORTS AUTHORITY OF INDIA SET TO BE RENAMED AS SPORTS INDIA

    the Sports Authority of India (SAI) is set to be renamed as Sports India, Union Sports Minister Rajyavardhan Singh Rathore announced on Wednesday after the sports body’s governing body meeting here. “Sports Authority of India is being renamed. The word authority is being removed. It will be known as Sports India now,” Rathore said after the meeting even as the press release issued by SAI had no mention of the change in name being approved. The sports body, established in 1984.


    खेल


    भारतीय खेल प्राधिकरण का नाम बदलकर स्‍पोर्ट्स इंडियारखा जाएगा

    भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) का नाम अब ‘स्पोटर्स इंडिया’ रखा जाएगा। खेलमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने साइ की बैठक के बाद यह घोषणा की। राठौड़ ने बैठक के बाद कहा, ‘भारतीय खेल प्राधिकरण का नाम बदला जाएगा। प्राधिकरण शब्द हटा दिया जाएगा। इसे अब स्पोटर्स इंडिया (भारतीय खेल) के नाम से जाना जाएगा।’साइ की स्थापना 1984 में की गई थी।


    Trade& Economy


    BANK OF CHINA GETS RBI LICENSE TO LAUNCH OPERATIONS IN INDIA

    The RBI has issued a licence to China’s largest bank to set up operations in India. The Bank of China will soon open a branch here, said sources. This had been one of the commitments made by India during a meeting between Narendra Modi and Xi Jinping in Wuhan and Qingdao. The 106-year-old bank is one of the biggest lenders in China. It is listed on the Hong Kong and Shanghai stock exchanges and has a market capitalisation of $165 billion. This is the second Chinese lender to secure a licence to open a branch in India. In 2011, RBI had granted a banking licence to ICBC, which has opened a branch in Mumbai.

    India and China have been focusing on expanding their economic ties notwithstanding differences on several sticky issues including on the boundary dispute. After last year’s Doklam standoff, both the countries have stepped up dialogue at various levels to reset the ties.several foreign banks, including the Bank of China, have sought RBI’s permission to set up operations in India. Industrial & Commercial Bank of China Ltd (ICBC) already has operations in India along with 44 other foreign banks, according to the RBI.


    व्यापार एवं अर्थव्यवस्था


    बैंक ऑफ चाइना को भारत में संचालन शुरू करने के लिए आर.बी.आई से लाइसेंस मिला

    बैंक ऑफ चाइना को भारत में कारोबार के लिए आरबीआई ने लाइसेंस जारी कर दिया है। एससीओ समिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से इसका वादा किया था। बैंक ऑफ चाइना चीन का दूसरा बैंक है, जो भारत में अपनी शाखा खोलेगा। मुंबई में पहली ब्रांच खोली जाएगी। ये चीन का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक है, जो हॉन्गकॉन्ग और शंघाई स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड है।

    चीन के 100 से अधिक वर्ष पुराने इस बैंक का मार्केट कैपिटल करीब 158 अरब डॉलर से अधिक है. बीओसी भारत में कदम रखने वाला दूसरा चीनी बैंक है. बैंक ऑफ चाइना ने जुलाई 2016 में मंजूरी के लिए आवेदन किया था. हालांकि उस समय डोकलाम सीमा तनाव के कारण मामला उलझ गया था. चीन का इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना 2011 से भारत में मौजूद है. आइसीबीसी की एक शाखा मुम्बई में है. वहीं भारत के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई की दो शाखाएं चीन में कारोबार कर रही हैं. एसबीआई की शंघाई के अलावा तिआनजिन में एक शाखा है. इसके अलावा भारत के बैंक ऑफ बड़ोदा, कैनरा बैंक, आईसीआईसीआई व एक्सिस बैंक की भी एक एक शाखा चीन में है. चीन सरकार बारबार यह मुद्दा उठा रहा था कि उसने भारतीय बैंकों को 7 शाखाएं खोलने की मंजूरी 2006 में ही दे दी थी. मगर उसके बैंकों को भारत की तरफ से इजाजत नहीं दी गई.

August 18, 2018

0 responses on "Daily Current Affairs"

Leave a Message

Your email address will not be published. Required fields are marked *

facebook

Twitter

top
X